मां जगदम्बे की आरती

दुर्गा पूजा

दुर्गा पूजा 2022 तारीखें

दिन 1षष्ठी
कल्परम्भ
1 अक्टूबर 2022
(शनिवार)
दिन 2सप्तमी
नवपत्रिका पूजा
2 अक्टूबर 2022
(रविवार)
दिन 3अष्टमी
दुर्गा महा अष्टमी पूजा
3 अक्टूबर 2022
(सोमवार)
दिन 4नवमी
दुर्गा महा नवमी पूजा
4 अक्टूबर 2022
(मंगलवार)
दिन 5दशमी
दशहरा
5 अक्टूबर 2022
(बुधवार)
दिन 5दशमी
दुर्गा विसर्जन
5 अक्टूबर 2022
(बुधवार)

देवी दुर्गा की आराधना

देवी दुर्गा की आराधना का यह पर्व दुर्गा उत्सव के नाम से भी जाना जाता है। दुर्गा पूजा 10 दिनों तक चलने वाला पर्व है। हालांकि सही मायनों में इसकी शुरुआत षष्टी से होती है।

दुर्गा पूजा उत्सव में षष्ठी, महा सप्तमी, महा अष्टमी, महा नवमी और विजयादशमी का विशेष महत्व है। मान्यता है कि देवी दुर्गा की बुराई के प्रतीक राक्षस महिषासुर पर विजय के रूप में दुर्गा पूजा का पर्व मनाया जाता है इसलिए दुर्गा पूजा पर्व को बुराई पर अच्छाई की जीत के तौर पर भी जाना जाता है।

यह पर्व विशेष रूप से पश्चिम बंगाल, असम, ओडिशा, त्रिपुरा, मणिपुर बिहार और झारखंड में बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। मान्यता है कि दुर्गा पूजा के समय स्वयं देवी दुर्गा कैलाश पर्वत को छोड़ धरती पर अपने भक्तों की बीच रहने आती हैं। मां दुर्गा देवी लक्ष्मी, देवी सरस्वती, कार्तिकेय और गणेश के साथ धरती पर अवतरित होती हैं।

दशहरा

आनंद संदेश

1 thought on “दुर्गा पूजा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *