जो मैं होता सांवरे मोर तेरे खाटू का- भजन लिरिक्स

जो मैं होता सांवरे मोर तेरे खाटू का, तुझे नाच के दिखाता, तेरे मुकुट पे मैं सज जाता, तुझे झूम झूम भजन सुनाता, जो मैं होता साँवरे, मोर तेरे खाटू का ।। जो में होता साँवरे, लीला तेरे खाटू का, तुझे पीठ पे बिठाता, अपना शहर तुझे दिखाता, तुझे अपने मैं घर ले जाता, जो … Read more

श्री कृष्ण गोविन्द हरे मुरारी लिरिक्स

श्री कृष्ण गोविन्द हरे मुरारी , हे नाथ नारायण वासुदेवा ॥ पितु मात स्वामी, सखा हमारे, हे नाथ नारायण वासुदेवा ॥ श्री कृष्ण गोविन्द हरे मुरारी, हे नाथ नारायण वासुदेवा ॥ पितु मात स्वामी, सखा हमारे, हे नाथ नारायण वासुदेवा ॥ बंदी गृह के, तुम अवतारी कही जन्मे, कही पले मुरारी किसी के जाये, किसी … Read more